रोहित शर्मा ने रचा इतिहास, जड़ डाला वन-डे का तीसरा दोहरा शतक

मुंबई हलचल
मोहाली। अभूतपूर्व और चामत्कारिक भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा के कारनामे के लिए इससे बेहतर शब्द सूझ ही नहीं रहे हैं। मोहाली में मेहमान श्रीलंकाई टीम के खिलाफ रोहित ने वह कर दिखाया, जो आज तक कभी कोई नहीं कर पाया है। रोहित ने सीरीज के दूसरे वन-डे इंटरनेशनल मैच में 208 नाबाद रन बनाकर अपने वन-डे करियर का तीसरा दोहरा शतक जड़ा, जो विश्वरिकॉर्ड है। दुनिया का कोई भी बल्लेबाज कभी दो बार भी दोहरा शतक नहीं लगा पाया है, और रोहित ने तो यह करतब तीसरी बार कर डाला है। एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहली बार दोहरा शतक मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ग्वालियर में वर्ष 2010 में ठोका था और 200 रन बनाकर नाबाद रहे थे। इस पारी में उन्होंने 25 चौके और तीन छक्के लगाए। इस शानदार आंकड़े को पार करने वाले अगले खिलाड़ी विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग रहे, जिन्होंने दिसंबर, 2011 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ इंदौर में 219 रन बनाए, जिनमें 25 चौके और सात छक्के शामिल थे।

सात दोहरे शतक में से तीन रोहित शर्मा के नाम 
 दुनिया में तीसरी बार दोहरा शतक ठोकने का कारनामा भी भारतीय बल्लेबाज ने ही किया, और यह कोई और नहीं रोहित शर्मा ही थे। नवंबर, 2013 में रोहित ने बेंगलुरू में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए 209 रन ठोके थे। इस पारी में उन्होंने 12 चौके और रिकॉर्डतोड़ 16 छक्के लगाए थे।  वन-डे के इतिहास का चौथा दोहरा शतक भी रोहित शर्मा ने ही लगाया था, और इस पारी में सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया था, जो आज तक बरकरार है। रोहित शर्मा ने नवंबर, 2014 में कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान में श्रीलंका के ही खिलाफ 264 रन बनाए थे। इस पारी में रोहित ने 33 चौके और नौ गगनभेदी छक्के जड़े थे। वन-डे क्रिकेट का पांचवां दोहरा शतक वेस्ट इंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने फरवरी, 2015 में जिÞम्बाब्वे के खिलाफ कैनबरा में ठोका था, और यह क्रिकेट वर्ल्डकप के दौरान लगा पहला दोहरा शतक था। 215 रन की इस पारी में क्रिस गेल ने 10 चौके और 16 छक्के लगाए थे। छठी बार 200 रन का आंकड़ा भी वर्ल्डकप के दौरान ही लगा, और न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ 237 रन की नाबाद पारी खेली, जिसमें उन्होंने 24 चौके और 11 छक्के ठोके।