45 वर्षीय शख्स ने साथ रहने वाली महिला, उसकी बेटी और नातिन को जिंदा जलाया

नासिक 
नासिक में एक शख्स ने अपने साथ रहने वाली एक महिला, उसकी बेटी और नातिन को जलाकर जान से मारने का प्रयास किया। बताया जा रहा है कि आरोपी शख्स का नाम जलालुद्दीन है और वह नासिक के कालिका नगर इलाके में रहता है। जलालुद्दीन द्वारा घर में आग लगाकर महिला, उसकी बेटी और नातिन को मारने का प्रयास किया गया था। इस घटना में इलाज के दौरान बच्ची की मौत हो गई, जबकि दो अन्य अब भी गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। इस घटना के बारे में नासिक के पंचवटी थाने के सहायक निरीक्षक वी. शार्दुल ने कहा कि जलालुद्दीन कालिका नगर इलाके में संगीता नाम की एक विधवा महिला के साथ रहता था। संगीता एक स्थानीय होटेल में काम करती है, जबकि जलालुद्दीन ने तीन महीने पूर्व एक आइसक्रीम कंपनी की प्राइवेट नौकरी छोड़ दी थी। 


मां से मिलने पहुंची थी प्रीति 
रविवार को संगीता की बेटी प्रीति 9 महीने की बेटी सिद्धी के साथ अपनी मां से मिलने पहुंची थी। इसी दौरान देर रात जलालुद्दीन और संगीता के बीच किसी बात को लेकर विवाद शुरू हो गया। पुलिस के मुताबिक संगीता ने जलालुद्दीन से कहा था कि वह प्रीति के घर में रुकने तक कहीं और जाकर रह ले, लेकिन जलालुद्दीन इसपर राजी नहीं हुआ। 

पड़ोसियों को सुबह मिली जानकारी 
इस झगड़े के कुछ घंटे बाद जब संगीता समेत घर के सभी लोग सो गए। इस बीच जलालुद्दीन ने संगीता, प्रीति और उसकी 9 महीने की बेटी पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी और फिर मौके से फरार हो गया। घटना के बाद पड़ोसियों ने सुबह करीब 4 बजे घर से निकलते धुएं को देखा, जिसके बाद तत्काल पुलिस को सूचना देकर घर में मौजूद लोगों को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। 

अस्पताल में भर्ती दो महिलाओं की हालत नाजुक 
इसके बाद सभी को नासिक के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान चिकित्सकों ने 9 माह की सिद्धी को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बताया कि अस्पताल में भर्ती संगीता और उसकी बेटी प्रीति की हालत गंभीर बनी हुई है और दोनों 80 फीसदी तक जल चुके हैं। पुलिस के मुताबिक घटना के बाद से जलालुद्दीन मौके से फरार है, जिसकी तलाश के लिए पुलिस टीमों को लगाया गया है।