मुंबई में खुले में थूका तो 1 हजार जुर्माना, 1 दिन में वसूले 1.11 लाख

मुंबई : कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए बीएमसी ने साफ-सफाई पर जोर लगा दिया है। मुंबई में सार्वजानिक स्थानों पर थूकने वालों से बीएमसी ने 1,000 रुपये जुर्माना वसूलना शुरू कर दिया है। इसके लिए मार्शलों को खास तौर सतर्क रहने का आदेश दिया गया है। बीएमसी ने बीते एक दिन में 111 लोगों से एक लाख 11 हजार रुपये जुर्माना वसूला। बीएमसी कमिश्नर प्रवीण परदेशी ने कहा, 'भीड़भाड़ वाले स्थानों पर थूकने से बीमारी फैलने की आशंका बढ़ जाती है। इसीलिए इसे रोकने के कड़े उपाय किए जा रहे हैं।' उन्होंने बताया, 'पहले सार्वजानिक स्थानों पर थूकने वाले 200 रुपये जुर्माना वसूल किया जाता था। अब इसे बढ़ाकर 1,000 रुपये कर दिया गया है।' उनका मानना है कि जुर्माना बढ़ाने से लोग खुले में थूकने से बचेंगे। बुधवार शाम तक 111 लोगों से एक लाख 11 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया।

मुंबई में दुकानें खोलने और बंद होने का समय तय करने का अधिकार बीएमसी को दिया गया है। सरकार ने दुकानदारों से अपील की है कि वे दुकानों के खोलने और बंद करने का समय खुद ही तय करें, ताकि भीड़ से बचा जा सके। इसके लिए यह उदाहरण दिया गया है कि अगर कोई दुकानदार सुबह के वक्त दुकान खोलता है, तो शाम के वक्त बंद रखे। इस बारे में फैसला उसे खुद करना है। दुकानदार एक दिन दुकान खोलकर दूसरे दिन बंद भी रख सकता है। मेडिकल स्टोर, दूध, खाद्य पदार्थ, सब्जी, किराना की दुकानों पर यह नियम लागू नहीं होगा।