वन रुपी क्लिनिक ने दिया नया जीवन, रेलवे स्टेशन पर मां की डिलिवरी

मुंबई : नेरुल से पनवेल जा रही एक महिला ने पनवेल स्टेशन पर गुरुवार सुबह एक बच्चे को जन्म दिया। खास बात यह रही कि महिला की डिलिवरी में रेलवे के वन रुपी क्लिनिक के डॉक्टर ने रेलवे स्टाफ के साथ मदद की जिससे बच्चे की नॉर्मल डिलिवरी हो सकी। बच्चा और मां दोनों स्वस्थ हैं और उन्हें अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। यह महिला नेरुल से पनवेल ट्रेन से जा रही थी जब रास्ते में उसे प्रसव पीड़ा हो गई। आपात स्थिति में पनवेल स्टेशन पर रेलवे का वन रुपी क्लिनिक काम आया। रेलवे स्टाफ के साथ मिलकर क्लिनिक के डॉक्टर ने महिला की सकुशल डिलिवरी कराई। डिलिवरी के बाद बच्चा और मां दोनों स्वस्थ हैं। बता दें कि सेंट्रल रेलवे पर इमर्जेंसी सेवा के लिए कार्यरत वन रुपी क्लिनिक पर अब तक कई डिलिवरी हो चुकी है . गौरतलब है कि एक सामाजिक कार्यकर्ता की याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट के निर्देश पर राज्य में वन रुपी क्लिनिक के गठन की कवायद शुरू हुई थी। यह क्लिनिक राज्य के कई स्टेशनों पर 24 घंटे यात्रियों को आपात सेवाएं प्रदान करता है।