गड्ढों की शिकायत का 24 घंटों में समाधान न होने पर BMC ने रखा था इनाम

मुंबई : एक नवंबर से गड्ढे न भरने पर इनाम देने की घोषणा सात नवंबर को खत्म हो गई। इस दौरान ऐप पर आई 1,445 शिकायतों में से 1,319 का समाधान किए जाने का बीएमसी ने दावा किया है। यानी कुल शिकायतों में से 91.3% का समाधान तय समय-सीमा में हो गया, जबकि कुछ शिकायतें 24 घंटे की समय-सीमा के बाद हल की गईं। शिकायतकर्ताओं से बीएमसी ने सर्वे भी किया, जिसमें 69% ने संतुष्टि जताते हुए 5 स्टार रेटिंग दी है। गौरतलब है कि गड्ढों की शिकायत का 24 घंटे में समाधान न होने पर शिकायतकर्ता को 500 रुपये जुर्माने के तौर पर देने का स्पष्ट निर्देश अधिकारियों को दिया गया था। इसके बाद से गड्ढे भरने को लेकर मुहिम शुरू हो गई। एक अधिकारी के अनुसार, सामग्री की दिक्कत समेत अन्य वजहों से सारे गड्ढे नहीं भरे जा सके। लेकिन ज्यादातर गड्ढे भर लिए गए। ट्विटर पर इस मुहिम की घोषणा के बाद से ही घंटे के अनुसार शिकायतों के समाधान पर नजर रखी जा रही थी। अडिशनल कमिश्नर ने इस मामले में ढिलाई बरतने पर कठोर कार्रवाई की चेतावनी भी दी थी। 24 घंटे में गड्ढे न भर जाने वाले 63 मामलों में बीएमसी को 31,500 रुपये जुर्माना देना होगा। अधिकारी ने बताया कि संबंधित शिकायतकर्ता को हमारे पास जुर्माना मांगने आना होगा। वादे के मुताबिक हम उन्हें पैसे देंगे।