शिवसेना के साथ आया एक और निर्दलीय विधायक का समर्थन किया ऐलान

महाराष्ट्र:  महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए नंबर का जुगाड़ कर रही शिवसेना को एक और निर्दलीय विधायक का समर्थन मिला है. सिरोल से निर्दलीय चुनाव जीतने वाले विधायक राजेंद्र पाटिल ने शिवसेना को समर्थन देने की घोषणा की है. उन्होंने अपना समर्थन पत्र भी शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे को सौंप दिया है. राजेंद्र पाटिल ने सोमवार देर रात मुंबई में उद्धव ठाकरे से मुलाकात की और उन्हें अपना समर्थन देने का ऐलान किया है.

महाराष्ट्र में गतिरोध बरकरार

बता दें कि महाराष्ट्र में अब तक सरकार गठन की कोई स्पष्ट तस्वीर सामने नहीं आ पाई है. बीजेपी और शिवसेना दोनों अपने-अपने पुराने रुख पर कायम है. बीजेपी ने साफ कह दिया है कि वो सीएम पोस्ट पर समझौता नहीं कर सकती है, वहीं शिवसेना सरकार में आने के लिए 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है. इस खींचतान के बीच दोनों पार्टियां निर्दलीय विधायकों को अपने पाले में खींचने में लगी हैं. सोमवार को राजेंद्र पाटिल के समर्थन के साथ ही शिवसेना को 8 निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल हो गया है. 

इन्होंने दिया है शिवसेना को समर्थन

इससे पहले जनशक्ति पार्टी विधायक बच्चू काडू, अचलपुर और मेलघाट विधायक राजकुमार पटेल ने भी शिवसेना के साथ जाने का फैसला किया था. रामटेक से निर्दलीय विधायक आशीष जायसवाल, भंडारा से स्वतंत्र विधायक नरेंद्र भोंडेकर उद्धव ठाकरे को समर्थन का ऐलान कर चुके हैं. ये दोनों शिवसेना के दो बागी थे, लेकिन इन्होंने एक बार फिर से पार्टी के साथ जाने का मन बना लिया है. इसके अलावा मुक्तिनगर नेवासा से निर्दलीय चुनाव जीतने वाले चंद्रकांत पाटिल, विधायक शंकर राव गदख, और सकरी से विधायक मंजुला गावित ने भी उद्धव ठाकरे से मुलाकात की है और शिवसेना को समर्थन देना का फैसला किया है.

सरकार बनाने में कोई बाधा नहीं

288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में इस बार शिवसेना ने 56 सीटों पर जीत हासिल की है, जबकि बीजेपी के खाते में 105 सीटें आईं हैं. महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 145 विधायकों का समर्थन जरूरी है. इस बीच सोमवार को सीएम देवेंद्र फडणवीस ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से दिल्ली में मुलाकात की और सरकार बनाने की रणनीति पर चर्चा की, लेकिन अभी तक तस्वीर साफ नहीं हो सकी है. इधर भारतीय जनता पार्टी को चुनौती देते हुए शिवसेना ने सोमवार को कहा कि जिसके पास राज्य में बहुमत है, वो सरकार बना सकती है. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हमें सरकार बनाने में कोई बाधा नहीं है,  जिसके पास बहुमत है वह राज्य में सरकार बना सकता है.