अपनी शादी का सामान ला रही थी, गड्ढे ने ले ली जान

भिवंडी : जिस घर में शादी की तैयारियां चल रही थीं, उसी घर से मय्यत निकली। अपनी शादी का सामान खरीदकर घर लौट रही डॉ. नेहा शेख की गड्ढे की वजह से जान चली गई। अगले महीने ही उनकी शादी थी। वह शादी का सामान खरीदकर मामा के साथ घर लौट रही थीं कि भिवंडी-वाडा रोड स्थित दुगाडफाटा के पास सड़क के गड्ढे की वजह से उनकी ऐक्टिवा का संतुलन बिगड़ गया। दोनों गिर गए और पीछे से आ रहे अज्ञात वाहन ने नेहा को रौंद दिया, जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार, कुडुस की रहने वाली डॉ. नेहा का निकाह 7 नवंबर को होने वाला था। वह मामा के साथ शादी का सामान खरीदने ठाणे गई थीं। बुधवार रात करीब 11 बजे जब दोनों घर लौट रहे थे, तब यह हादसा हुआ। हादसे में मामा तो बाल-बाल बच गए, लेकिन नेहा नहीं बच पाईं। हादसे के बाद लोगों ने श्रमजीवी संगठन के जिलाध्यक्ष प्रमोद पवार के नेतृत्व में टोलनाका पर वसूली बंद कराई। गुरुवार को दुर्घटनास्थल के पास लोगों ने लगभग 3 घंटे तक टोल वसूली करने वाली सुप्रीम कंपनी के विरुद्ध आंदोलन किया। बता दें कि भिवंडी-वाडा-मनोर रोड की टोल वसूली का ठेका सुप्रीम इंफ्रास्ट्रक्चर का है। टोल वसूली के बाद भी 10 साल से यहां सड़कों पर गड्ढे हैं, जिनकी वजह से आए दिन दुर्घटनाएं होती हैं। आंदोलन का नेतृत्व करने वाली मोनिका पावले ने कहा है कि जब तक दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई नहीं होगी, आंदोलन जारी रहेगा।