राजनाथ सिंह के बचाव में सामने आई पाकिस्तानी सेना

कश्मीर मसले को लेकर लगातार भारत के खिलाफ जहर उगलने वाले पाकिस्तान के एक अलग रूप सामने आया है। भारत पर लगातार हमला करने वाले पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को राफेल की शस्त्र पूजा को लेकर भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बचाव किया।  फ्रांस में राफेल की शस्त्र पूजा को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे राजनाथ सिंह का पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने बचाव किया और कहा कि राफेल की पूजा में कुछ भी गलत नहीं है क्योंकि यह धर्म संगत है। 

गुरुवार को आसिफ गफूर ने ट्वीट किया कि राफेल की  पूजा में कुछ भी गलत नहीं है क्योंकि यह धर्म के अनुसार है।  कृपया, याद रखें... यह अकेली मशीन नहीं जो मायने रखती है असल में उस मशीन को संभालने वाले व्यक्ति की क्षमता, जुनून और संकल्प मायने रखता है।' पाकिस्तानी सेना की ओर से यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब दोनों दक्षिण एशियाई मुल्कों के बीच तनाव अपने चरम पर हैं। भारत द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे पर की गई कार्रवाई को लेकर पाकिस्तान में रोष का माहौल है। और पाकिस्तान लगातार 370 हटाने के बाद से भारत के खिलाफ जहर उगल रहा है। 

गौरतलब है कि दशहरे के दिन जब फ्रांस में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को राफेल लड़ाकू विमान सौंपा जा रहा था, उस समय राजनाथ सिंह ने राफेल की शस्त्र पूजा की थी। क्योंकि दशहरे के दिन शस्त्रों की पूजा की जाती है। जिसके बाद से ही विपक्ष इसकी आलोचना कर रहा है। हालांकि, इस बीच राजनाथ सिंह ने भी जवाब दे दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई के  मुताबिक, राफेल विमान की 'शस्त्र पूजा' करने को लेकर उठे सवालों और विपक्ष की आलोचनाओं पर रक्षा मंत्री  राजनाथ सिंह ने कहा, "लोग जो चाहें कह सकते हैं। मैंने वही किया जो मुझे सही लगा और मैं ऐसा करना जारी रखूंगा। यह हमारा विश्वास है कि एक सुपर पावर है और मैंने इसे बचपन से यकीन किया है।