बंद हो रहे हैं 2000 रुपये के नोट? RBI से मिला यह जवाब

फेस्टिव सीजन के दौरान नकदी की ज्यादा जरूरत होती है. ऐसे में तमाम मीडिया रिपोर्ट्स में खबरें आ रही हैं कि 2000 रुपये के नोट ATM से धीरे-धीरे हटाए जा रहे हैं. खबर है कि इसकी शुरुआत देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI से हो गई है.
दरअसल पिछले दो-तीन दिन से ऐसी खबरें चल रही हैं कि RBI के निर्देश पर SBI के छोटे शहरों और कस्बों में मौजूद ATM में से 2000 रुपये के नोट रखने के स्लॉट (कैसेट) हटाए जा रहे हैं. इस स्लॉट की जगह बैंक 100 रुपये, 200 रुपये और 500 रुपये के स्लॉट बढ़ा रहे हैं.
एक तरह से खबर यह है कि SBI छोटे शहरों में 2000 के नोट को बंद करने के लिए चरणबद्ध तरीके से काम कर रहे हैं. रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि आम लोगों में अफवाह न फैल जाए कि सरकार 2000 रुपये का नोट बंद कर रही है, इसलिए इसे धीरे-धीरे ATM से हटाने की तैयारी की जा रही है.
एक रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल SBI ने उत्तर प्रदेश के कानपुर मंडल से इसकी शुरुआत हो गई है. खबर में SBI के एक सीनियर अधिकारी का हवाला दिया गया है, जिसमें कहा गया कि करीब एक साल से एटीएम में 2000 रुपये का नये नोट नहीं डाल रहे हैं.
यह खबर सीधे आम आदमी से जुड़ी है, इसलिए 'आजतक' ने इसकी असलियत जानने की कोशिश की. क्योंकि लगभग सभी वेबसाइटों पर 2000 रुपये के नोट से जुड़ी यह खबर छपी है. 'आजतक' इस खबर को लेकर मुंबई में RBI के सीनियर अधिकारियों से बात की.
आरबीआई के अधिकारियों ने इस खबर को सिरे से खारिज कर दिया. उन्होंने इस खबर को अफवाह बताते हुए कहा कि 2000 के नोट बैन की खबर बिल्कुल गलत है. RBI ने किसी भी बैंक को इस तरह का कोई आदेश नहीं दिया है.