पूर्व नगरसेवक की हो सकती है गिरफ्तारी

ठाणे: श्रीव्रजेश्वरी योगिनी देवी मंदिर के करीब सवा तीन करोड़ रुपये के गबन के मामले में मुंबई उच्च न्यायालय ने ठाणे मनपा के पूर्व नगरसेवक और एनसीपी के पूर्व शहर अध्यक्ष मनोज प्रधान को ठाणे पुलिस के सामने हाजिर होने का आदेश दिया है। ऐसे में प्रधान को गिरफ्तार किया जा सकता है। ठाणे सत्र न्यायालय ने प्रधान को गिरफ्तारी पूर्व जमानत दी थी। लेकिन, उच्च न्यायालय ने जमानत को रद्द करते हुए सोमवार को पुलिस के सामने हाजिर होने को कहा है। नवंबर 2018 में गबन का मामला सामने आया था। संस्थान के चेयरमैन कल्पेश पाटील तथा संरक्षक अविनाश राउत की शिकायत पर ठाणे ग्रामीण पुलिस के गणेशपुरी पुलिस स्टेशन में प्रधान के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।