छात्र के सिर पर धारदार हथियार से वार, फिर गले में फंदा डाला और लाश को 13 किमी तक बाइक से घसीटता रहा

उत्तर प्रदेश के मेरठ में मंगलवार सुबह हाईवे-235 पर दिल दहला देने वाली दुस्साहिक वारदात को अंजाम दिया गया। हापुड़ के एक छात्र की सिर पर धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई और गले में फंदा डालकर लाश को करीब 13 किलोमीटर तक बाइक से बांधकर हाईवे पर घसीटा गया। हत्यारे लाश को खरखौदा क्षेत्र में फेंककर भाग निकले। पुलिस सड़क पर मौजूद खून के निशान का पैदल पीछा करते हुए हापुड़ में घटनास्थल तक पहुंची। छात्र की शिनाख्त हो गई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।
मंगलवार सुबह आठ बजे मेरठ-बुलंदशहर हाईवे पर खरखौदा थाना क्षेत्र के धीरखेड़ा के पास सड़क किनारे कच्चे रास्ते पर एक युवक की लाश पड़ी थी। सूचना पर इंस्पेक्टर मनीष बिष्ट मौके पर पहुंचे। शव औंधे मुंह पड़ा था और पास में ही उसकी बाइक पड़ी थी। बाइक से बरामद कागजात के आधार पर पुलिस ने बाइक मालिक रोहटा रोड मेरठ निवासी चंद्रपाल के बेटे से पूछताछ की। उसने दोस्त मुकुल द्वारा बाइक ले जाने की जानकारी दी। इसके बाद मृतक की शिनाख्त मुकुल पुत्र स्वर्गीय प्रेमसुंदर के रूप में हुई।
मुकुल मूल रूप से बुलंदशहर में बीबीनगर थाना क्षेत्र के एत्मादपुर का रहने वाला था। अपनी मां शशि के साथ हापुड़ में स्वर्ग आश्रम रोड पर किराए के मकान में रह रहा था। मृतक के सिर पर धारदार हथियार के प्रहार का निशान था। खून के निशान घटनास्थल से लेकर हापुड़ में हाईवे स्थित नई मंडी तक पाए गए। इन्हीं निशानों से पुलिस पैदल चलते हुए हापुड़ तक पहुंची। पुलिस मान रही है कि हापुड़ में हत्या कर लाश यहां फेंकी गई। उसके गले में फंदा डाला और उसे बाइक से बांधकर घसीटते हुए खरखौदा में लाकर फेंक दिया। परिजनों के मुताबिक, मुकुल सोमवार सुबह 10 बजे से लापता था।