हाईवे पर ट्रैक्टर चालक को पीटने में सात पर केस

कछला चौराहे पर हुए सड़क हादसे के बाद ट्रैक्टर सवार मजदूरों की पिटाई का वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने सात लोगों को नामजद करते हुए 15-20 अज्ञात के खिलाफ बलवा, मारपीट और बंधक बनाने की रिपोर्ट दर्ज की है। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद कछला में खलबली मच गई है। नामजदों में सड़क हादसे में मारे गए ओम प्रकाश का एक चचेरा भाई भी शामिल है।22 सितंबर शनिवार की सुबह कछला चौराहे पर अनियंत्रित ट्रैक्टर ट्रॉली दो लोगों को रौंदती हुए एक मिठाई की दुकान में घुस गई थी। इनमें से एक घायल की उपचार को ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई, जबकि दूसरे का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। हादसा होते ही उत्तेजित भीड़ ने ट्रैक्टर सवार दो मजदूरों को पकड़ लिया।
उनकी मौके पर डंडों से पिटाई कर एक दुकान में बंद कर दिया गया। उन्हें सूचना पर पहुंची पुलिस ने बंधन मुक्त कराया। सहसवान के गांव रेलई माधोपुर निवासी मजदूर हसीमुद्दीन और महबूब अली को पुलिस अभिरक्षा में सीएचसी पर भर्ती कराया गया। वहां से मेडकल कॉलेज रेफर किया गया। उनका मेडीकल कॉलेज में उपचार चल रहा है। ट्रैक्टर सवार मजदूरों की पिटाई का किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार चाहर ने कछला चौकी प्रभारी ललित शर्मा को जांच सौंपी। जांच के बाद चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक ने कछला निवासी पप्पू, धुआं, ओम नंदन, कल्लू, भानु, जीराज, वीरेंद्र सहित 15- 20 अज्ञात के खिलाफ बंधक बनाकर मारपीट करने बलवा और 7 क्रमनल लॉ एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट दर्ज की है। कछला में सड़क हादसे के बाद मजदूरों की पिटाई का वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की गई है। नामजदों के साथ अज्ञात की पहचान की पहचान कर गिरफ्तारी की जाएगी। कानून हाथ में लेने की किसी को इजाजत नहीं है।