पानी कटौती बंद, झीलों में पानी ही पानी

मुंबई : मुंबई के लोगों के लिए फिलहाल अच्छी खबर है। झीलों में पानी के बढ़ते स्तर को देखते हुए मंत्री योगेश सागर ने कटौती रद्द करने का निर्देश दिया था। जिस पर तत्काल अमल करते हुए बीएमसी ने 20 जुलाई से पानी कटौती खत्म करने का ऐलान कर दिया। बीएमसी को भरोसा है कि आने वाले दिनों में अच्छी बारिश होगी। लेकिन यदि पिछले साल की तरह मॉनसून के अंतिम दौर में बारिश ने धोखा दिया, तो लोगों की चिंता बढ़ सकती है।
हर मॉनसून के बाद बीएमसी 1 अक्टूबर को झीलों में जलस्तर के आधार पर समीक्षा कर पानी आपूर्ति के बारे में फैसला लेती थी। पिछले साल मॉनसून की शुरुआत में तो अच्छी बारिश हुई, लेकिन अंत में यह चाल धीमी पड़ गई। इससे झीलों में जलस्तर पूरा नहीं हो पाया और बीएमसी ने तत्काल पानी की कटौती का ऐलान कर दिया। उसी का असर रहा कि बारिश देर से आने के बाद भी लोगों को पानी की आपूर्ति होती रही। लेकिन इस बार तो मॉनसून के बीच में ही यह फैसला ले लिया गया।
कम बारिश हुई तो बढ़ेगी जनता की चिंता
बीएमसी को पानी की आपूर्ति करने वाली झीलों में 19 जुलाई सुबह 6 बजे तक 51.37% पानी जमा था, जो कि पिछले साल इसी अवधि तक जमा हुए 76.71 प्रतिशत से काफी कम है। बावजूद इसके प्रशासन ने अच्छी बारिश की संभावना के चलते इधर पानी की कटौती न करने का फैसला कर लिया है।
नेता प्रतिपक्ष ने किया स्वागत
उधर, नेता प्रतिपक्ष रवि राजा ने इसका स्वागत किया है। उन्होंने कहा, बीएमसी का फैसला अच्छा है। लेकिन यह चुनाव से पहले जल्दबाजी में लिया हुआ फैसला है।