जैकलिन फर्नांडीज ने इस बात को बताया एक बड़ी उपलब्धि की तरह

मुंबई हलचल

नई दिल्ली। मिश्रित मार्शल आर्ट टूर्नामेंट सुपर फाइट लीग (एसएफएल) में दिल्ली हीरोज की सह-मालिक और अभिनेत्री जैकलिन फर्नांडीज का कहना है कि देश में सभी खेलों को समान महत्व दिया जाना चाहिए। भारत में मार्शल आर्ट्स को बढ़ावा दिए जाने की जरूरत पर जैकलिन ने आईएएनएस को फोन पर बताया, मुझे लगता है कि सभी खेलों को पहचान मिलनी चाहिए। हर खेल को समान महत्व दिया जाना चाहिए। बॉलीवुड की 32 वर्षीय जैकलिन का कहना है कि एमटीवी चैनल के शो के दूसरे संस्करण का अनोखा हिस्सा यह है कि इसमें महिलाएं भी भाग ले रही हैं। उन्होंने कहा, यह सच है कि वास्तव में महिलाओं को खेल के लिए प्रोत्साहित किया गया है। महिलाएं प्रत्येक टीम का हिस्सा हैं और वे अन्य पुरुष प्रतिभागियों जितनी ही महत्वपूर्ण हैं। मेरे लिए यह एक बड़ी उपलब्धि की तरह है। जुड़वा-2 की अभिनेत्री ने कहा कि वह इस साल अपनी टीम की जीत को लेकर आश्वस्त हैं। वर्तमान में अपनी आगामी दो फिल्मों रेस-3 और ड्राइव की शूटिंग में व्यस्त हैं।